Wednesday, 24 January 2018

सबसे बड़ा धर्म है गौ सेवा - राज्यपाल श्रीमती पटेल

सबसे बड़ा धर्म है गौ सेवा - राज्यपाल श्रीमती पटेल

राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज गायत्री मंदिर स्थित गौशाला तथा बुल मदर फार्म,केरवा पहुंचकर गौवंश की पूजा की तथा गायों को चारा खिलाया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि गाय हमारी माता है और गौ सेवा सबसे बड़ा धर्म है। गौ मूत्र में बहुत शक्ति होती है और इसका उपयोग औषधि के रूप में भी बहुत लाभदायक है। उन्होंने कहा कि मेरे माता पिता ने मुझे बचपन से ही गौ सेवा की सीख दी है। गौ मूत्र और गोबर से ऊर्जा का निर्माण भी किया जाता है।
राज्यपाल श्रीमती पटेल ने गायत्री मन्दिर परिसर में श्रीराम साहित्य डिपो में जाकर गायत्री परिवार से संबंधित पुस्तकों का अवलोकन करते हुए साहित्य की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि यहां उपलब्ध पुस्तकों का सभी को अध्ययन करना चाहिए। इस अवसर पर गायत्री परिवार ने राज्यपाल का स्वागत किया तथा अध्ययनरत छात्रों ने भगवान गणेश की मूर्ति भेंट की।
राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल को बुल फार्म के भ्रमण के दौरान प्रमुख सचिव ने जानकारी दी कि यहां गिर और साहीवाल नस्ल की देसी गायें उपलब्ध हैं। यहां भ्रूण प्रत्यारोपण तकनीक से वत्सों का जन्म कराया जाता है। राज्यपाल ने देसी नस्लों के संरक्षण एवं संवर्धन के लिये किये जा रहे कार्यों की जानकारी ली।

इस अवसर पर मध्यप्रदेश राज्य पशुधन एवं कुक्कुट विकास निगम के अध्यक्ष श्री मुंशीलाल, प्रमुख सचिव श्री अजीत केसरी, प्रबंध संचालक श्री एच बी एस भदौरिया एवं गायंत्री मंदिर के प्रबंध ट्रस्टी डॉ. एस.एल. पाटिदार, डॉ.अशोक नेमा, उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.