Tuesday, 19 May 2020

दोबारा न होना पड़े क्वारंटाइन प्रमाणपत्र लेकर निकलेंगे



जगदलपुर। लॉकडाउन-04 में क्वारंटाइन की अवधि पूरी करके क्वारंटाइन सेंटर से बाहर आने वाले लोग प्रमाणपत्र लेकर निकलेंगे। ऐसी व्यवस्था इसलिए की जा रही है ताकि ग्रामीणों को गांव लौटने वाले प्रवासी श्रमिक अथवा अन्य व्यक्ति जो बाहर से लौटा है, के क्वारंटाइन में निर्धारित अवधि तक रहने को लेकर विश्वास हो जाए। साथ ही संबंधित व्यक्ति को दोबारा क्वारंटाइन में न जाना पड़े। प्रमाणपत्र मिलने से संबंधित व्यक्ति को दोबारा क्वारंटाइन नहीं होना पड़ेगा।

सोमवार को कोविड-19 महामारी के नियंत्रण के लिए गठित जिला कोर कमेटी की बैठक में इस बारे में विस्तार से चर्चा हुई। कलेक्टर डॉ अय्याज तंबोली ने अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को क्वारंटाइन से बाहर आने वाले व्यक्ति को अनिवार्य रूप से प्रमाणपत्र देने का निर्देश दिया।
ठेले लगेंगे पर टेक अवे पद्धति से होगा कारोबार
लॉकडाउन में मिली रियायतों के तहत बताया गया कि टेक अवे पद्धति से हॉटल, चाट-गुपचुप आदि के ठेलों की संचालन की अनुमति दी जाएगी। हॉटल, ठेलों आदि में शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना आवश्यक होगा। हॉटल संचालक, कर्मचारियों एवं ग्राहकों को मास्क लगाना भी अनिवार्य है।
निर्देशों का पालन नहीं करने वाले दुकानदारों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए गए हैं। बैठक पुलिस अधीक्षक दीपक झा, सीइओ जिला पंचायत इन्द्रजीत चन्द्रवाल, अपर कलेक्टर अरविंद एक्का, सहायक कलेक्टर अबिनाश मिश्रा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, शासकीय मेडिकल कॉलेज एवं महारानी अस्पताल के अस्पताल अधीक्षक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.