Saturday, 9 May 2020

किसानों को लॉकडाउन के दौरान मिली 18,253 करोड़ रुपए की मदद


कोरोना वायरस फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का सबसे ज्यादा असर किसानों पर हुआ है। हालांकि केंद्र सरकार ने हर संभव कोशिश की है कि अन्नदाता का राहत पहुंच जाए। इसी क्रम में PM Kisan Yojana के तहत किसानों के खाते में 18,253 करोड़ रुपए की मदद पहुंचाई गई है।


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस दौरान PM Kisan Yojana (प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि) के तहत 9.13 करोड़ किसानों के खाते में यह राशि जमा की गई है। इस योजना में छोटे किसानों के खाते में हर साल 3 किस्तों में 6000 रुपए की राशि जमा की जाती है।
वित्त मंत्री ने ट्वीट पर यह जानकारी दी। उन्होंने बताया, इस साल मार्च से अब तक 9.13 करोड़ किसानों के खाते में कुल 18,253 करोड़ रुपए जमा किए जा चुके हैं। इसके अलावा करीब 3 करोड़ किसानों ने अपने कर्ज पर 3 महीने के मोरेटोरियम का फायदा उठाया है। इन किसानों पर 4.22 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है।
बैंक लोन लेने वाले 95 फीसदी से अधिक किसानों ने राहत देने के लिए 20 मार्च से 6 मई के दौरान सरकारी बैंकों से संपर्क साधा है। इन कर्जदार किसानों को इमरजेंसी लोन के रूप में जारी की गई राशि 54,544 करोड़ रुपए पर पहुंच गई है, जो दो दिन पहले के मुकाबले दोगुने से अधिक है। इस योजना के तहत कर्ज की संख्या भी 3 गुना हो गई है। सात ही, रूरल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड (आरआईडीएफ) के तहत भी राज्यों को 4,224 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता दी जा चुकी है।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.