Saturday, 23 May 2020

महिलाएं ऑनलाइन जिमीकंद बेचकर लाखों कमा रही


महिलाएं ऑनलाइन जिमीकंद बेचकर लाखों कमा रही
राजनांदगांव। लॉकडाउन में प्राय: सभी व्यापार नुकसान में चल रहा है। लेकिन मॉ बम्लेश्वरी महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं जिमी कांदा बेचकर करोड़ों रुपए का व्यापार कर रही हैं। जिले की करीब 10 हजार महिलाओें के नेतृत्व में सौ टन जिमी कांदा का उत्पादन लाकडाउन के दौरान हुआ है।


लॉकडाउन के चलते जिमी कांदा की ऑनलाइन बिक्री भी की जा रही है। फोन से जिमीकांदा की बुकिंग कराकर घर पहुंच सेवा भी समूह की ओर से दी जा रही है। इससे महिलाएं आत्मनिर्भर हो रहीं हैं। एक तरफ लॉकडाउन की वजह से ज्यादातर व्यापार ठप पड़ा है, वहीं दूसरी तरफ महिलाएं जिमी कांदा (जिमी कंद) बेचकर आत्मनिर्भरता की मिसाल पेश कर रही हैं।
जिमीकांदा के साथ स्व सहायता समूह की महिलाओं ने तीन लाख मास्क भी बनाया है। जिसे छत्तीसगढ़ के अलावा अन्य राज्यों में भी भेजा रहा है। वर्तमान समय में महिलाओं के लिए स्वावलंबन की राह अपनाना बहुत जरूरी हो गया है। महिलाएं हर क्षेत्र में आगे जरुर बढ़ रही हैं, लेकिन देश की तरक्की के लिए आत्मनिर्भर महिलाएं होना ज़रूरी है।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.