Wednesday, 29 April 2020

छत्तीसगढ़ ने लॉक डाउन के दौरान मनरेगा में दिए18 लाख रोजगार


रायपुर लॉकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ में 18.52 लोगों को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) के तहत रोजगार मिला है। यह संख्या देशभर में इस वक्त मनरेगा में लगे कुल मजदूरों का करीब 24 फीसद है। यह संख्या देश में सर्वाधिक है। दूसरे नंबर पर राजस्थान है, वहां 10 .79 लाख और तीसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश है, वहां करीब नौ लाख लोगों को रोजगार मिला है।

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय से जारी आंकड़ों के अनुसार मनरेगा कार्यो में अभी पूरे देश में 77 लाख 85 हजार 990 मजदूर लगे हैं। मनरेगा के तहत प्रदेश की 9883 ग्राम पंचायतों में चल रहे विभिन्न कार्यो में अभी 18 लाख 51 हजार 536 श्रमिक काम कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव ने इस कठिन दौर में भी मनरेगा के बेहतरीन क्रियान्वयन के लिए सरपंचों की सक्रियता व तत्परता की सराहना की है। उन्होंने इस उत्कृष्ट कार्य के लिए सरपंचों के साथ ही मनरेगा की राज्य इकाई, जिला और जनपद पंचायतों की टीम को बधाई दी है।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.