Monday, 20 April 2020

अमेरिकी जांच टीम को वुहान में नहीं देगा प्रवेश


बीजिंग  ! अमेरिकी टीम कोरोना वायरस के प्रमुख केंद्र रहे चीन के वुहान में जांच के लिए नहीं जा पाएगी। इस संबंध में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मांग की थी, लेकिन बीजिंग ने उसे सिरे से खारिज कर दिया है। चीन ने दो टूक कह दिया है कि अन्य देशों की तरह वह भी कोराना वायरस का पीड़ित है, अपराधाी नहीं है। दरअसल अमेरिका इस बात की जांच में जुटा है कि क्या यह घातक वायरस वुहान के इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी से निकला था।

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने कहा कि वायरस पूरी मानव जाति के लिए साझा दुश्मन है। तीखे अंदाज में उन्होंने कहा कि यह दुनिया में कभी भी कहीं भी सामने आ सकता है। किसी भी अन्य देश की तरह, चीन भी इस वायरस से प्रभावित हुआ है। अपराधी होने के बदले चीन पीड़ित है। इस बीच अमेरिका में इस बीमारी के कारण 41,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं संक्रमित लोगों की संख्या 7,64,000 से अधिक हो चुकी है।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.