Wednesday, 11 March 2020

सरकार बनाने को कानूनी सलाह ले रहे राज्यपाल


भोपाल ! मध्य प्रदेश में सियासी उठापटक जारी है. होली के जश्न के बीच ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस के रंग में भंग मिला दिया है. 18 साल तक कांग्रेस के हाथ का साथ देने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुख्यमंत्री कमलनाथ और पार्टी के सीनियर नेताओं से नाराजगी के चलते पार्टी से इस्तीफा दे दिया है.


इसके साथ ही सिंधिया के समर्थन में कांग्रेस के 22 विधायकों ने भी पार्टी को बाय बोल दिया है. इस बीच दिल्ली से भोपाल तक सियासी जोड़तोड़ जारी है. वहीं बीजेपी नेता गोपाल भार्गव, नरोत्तम मिश्रा समेत पार्टी के कई नेताओं ने विधानसभा स्पीकर एनपी प्रजापति से मुलाकात की और 19 कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे सौंपे.
बीजेपी विधायकों से मिलने के बाद विधानसभा स्पीकर ने कहा कि नियमों के तहत एक्शन लिया जाएगा. वहीं मध्य प्रदेश के राज्यपाल इस वक्त लखनऊ में हैं. राज्य में जारी उठापटक के बीच मध्य प्रदेश के राज्यपाल सियासी हालात पर नजर बनाए हुए हैं. राज्यपाल का लखनऊ से भोपाल लौटने का कार्यक्रम 12 मार्च तय है.

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.