Monday, 30 March 2020

सरकार के सख्त कदम का दिख रहा असर, लापरवाही से हो जाएंगे पीछे- स्वास्थ्य मंत्रालय


नई दिल्ली ! भारत में कोरोना वायरस के मामलों में हर दिन इजाफा देखने को मिल रहा है. भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या एक हजार के पार हो चुकी है. वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि देश में लॉकडाउन का असर देखने को मिल रहा है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि भारत में लॉकडाउन का असर दिख रहा है. 100 से 1000 केस होने में भारत को 12 दिन लगे. जबकि दूसरे देशों में ये आंकड़ा इस दौरान 5-6 हजार संक्रमित मरीजों तक पहुंच चुका था. हालांकि इस वक्त स्थिति यह है कि एक भी चूक हमारे लिए भारी पड़ सकती है.
एम्स, अस्पतालों की तैयारियों को बेहतर बनाने के लिए ट्रेनिंग दे रहा है. वहीं मिनिस्ट्री ऑफ स्किल डेवलपमेंट ने अपने सभी संस्थानों और हॉस्टल के साथ ही एक लाख कर्मचारी कोविड-19 से निपटने के लिए दिए हैं.
देश में कोरोना वायरस के संकट के कारण 21 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया गया. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना से लड़ाई के लिए सोशल डिस्टेंसिंग को काफी अहम बताया है. वहीं भारत में हर दिन कोरोना वायरस के टेस्ट किए जा रहे हैं. अब तक कोरोना वायरस के भारत में 38442 टेस्ट किए जा चुके हैं. रविवार को ही 3501 टेस्ट किए गए हैं. उनका अस्पतालों में गाइडलाइन के मुताबिक इलाज किया जा रहा है. वहीं अभी कोरोना वायरस लोकल स्तर पर ही फैल रहा है. भारत में ज्यादातर कोरोना मरीजों की ट्रैवल हिस्ट्री रही है.
अब तक कितने मामले?
देश में हर दिन कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है. देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 1100 के पार पहुंच चुकी है. वहीं 30 से ज्यादा मरीजों की कोरोना वायरस के कारण देश में मौत भी हो चुकी है.

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.