Monday, 2 March 2020

चार मार्च से अतिथि विद्वानों को कालेजों में पदस्थ करने की शुरू होगी काउंसलिंग


भोपाल ! उच्च शिक्षा विभाग ने फालेन आउट हुए अतिथि विद्वानों की दूसरे चरण की काउंसलिंग कराने का निर्णय कर लिया है। उनकी काउंसलिंग चार मार्च से शुरू हो रही है। इसमें करीब 1300 फालेन आउट हुए अतिथि विद्वानों को पदस्थ किया जाएगा। इससे प्रदेश के कालेजों की शैक्षणिक व्यवस्था में सुधार आएगा।


असिस्टेंट प्रोफेसरों की नियुक्ति देकर करीब 2200 अतिथि विद्वान को फालेन आउट कर दिया था। इसका विरोध शुरू हो गया था, जिसके तहत शाहजानी पार्क में अतिथि विद्वान शासन के खिलाफ मोर्चा खोलकर बैठे हुए है। इस दौरान उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने उनसे कहा था कि किसी भी अतिथि विद्वान को बाहर नहीं किया जाएगा। इसके तहत पहले चरण की काउंसलिंग कर 650 अतिथि विद्वानों की काउंसलिंग कर पदस्थ किया गया है। अब विभाग 1300 अतिथि विद्वानों को दूसरे चरण की काउंसलिंग शुरू करने जा रहा है। ये काउंसलिंग चार से सात मार्च तक चलेगी। विभाग नौ मार्च को उनकी मरेटि सूची जारी करेगा। सूची में शामिल अतिथि विद्वानों को 11 मार्च तक कालेजों में पहुंचकर अपनी आमद दर्ज कराना होगी। सभी अतिथि विद्वानों के नियुक्त होने के बाद प्रदेश के 516 कालेजों की शैक्षणिक व्यवस्था में काफी सुधार होगा। इसमें उन कालेजों में शिक्षक मौजूद हो जाएंगे, जो शिक्षकों के अभाव में लंबे समय से चल रहे हैं।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.