Saturday, 22 February 2020

मध्यान्ह भोजन बनाने वाले रसोइयों ने किया धरना प्रदर्शन



रायपुर ! प्रदेश के सरकारी स्कूलों में मध्यान्ह भोजन बनाने वाले सैकड़ों रसोइयों ने आज यहां धरना प्रदर्शन कर मानदेय बढ़ाने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी है कि उनकी मांगों पर विचार न करने पर वे सभी आगे की रणनीति बनाने के लिए मजबूर होंगे। छत्तीसगढ़ मध्यान्ह भोजन रसोइया संघ के बैनर पर सैकड़ों रसोइया सुबह यहां एकजुट हुए। इसके बाद वे सभी नारेबाजी करते हुए बूढ़ापारा में धरने पर बैठ गए। रसोइया संघ के पदाधिकारियों का कहना है कि मानदेय बढ़ाने समेत अपनी पांच सूत्रीय मांगों को लेकर वे सभी शासन-प्रशासन से कई बार चर्चा कर चुके हैं। इसके बाद भी उनकी मांगों पर कोई विचार नहीं किया जा रहा है।  उनकी मांगों में मुख्यमंत्री की घोषणा के मुताबिक मानदेय 3 सौ रूपए बढ़ाने, रसोइया कर्मचारी को कलेक्टर दर पर वेतन देने, प्रायमरी व मीडिल स्कूल में एक-एक रसोइया का पद मंजूर करने, 50 फीसदी चतुर्थ श्रेणी के पद पर नियुक्ति देने व स्व-सहायता समिति के माध्यम से की जा रही नई नियुक्ति पर रोक लगाने शामिल हैं।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.