Wednesday, 26 February 2020

सरकार ने रिजर्व व विश्व बैंक से लिया 57 हजार 848 करोड़ का कर्ज - मुख्यमंत्री



रायपुर ! छत्तीसगढ़ सरकार पर एशियन डेव्लपमेंट, विश्व बैंक तथा रिजर्व बैंक का कुल कर्ज 57 हजार 848 करोड़ का है। इस आशय की जानकारी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में दी। विधानसभा में आज अजय चंद्राकर द्वारा पूछा गया था कि एक दिसम्बर 2018 से लेकर 31 जनवरी 2020 तक राज्य में कितनी-कितनी राशि कर्ज ली गई है? जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार ने भारतीय रिजर्व बैंक के माध्यम से नाबार्ड, एशियन बैंक, विश्व बैंक तथा अन्य बैंकों से 57 हजार 848 करोड़ की राशि कर्ज में ली है।
पूरक प्रश्न के माध्यम से अजय चंद्राकर ने पूछा कि इस पर कितना प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है। तब उन्होंने बताया कि 7.64 से लेकर 7.18 प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है। सरकार द्वारा अलग-अलग माह में ब्याज दर पटाया गया है। यह कर्ज क्रमश: 7 वर्ष, 2 वर्ष तथा 5 वर्ष के लिए अलग-अलग मदों में लिया गया है। सरकार ने जनवरी 2020 में एक हजार करोड़ तथा फिर जनवरी में 1 हजार करोड़ 7.17 ब्याज की दर से 10 वर्ष के लिए लिया है। इस तरह भारतीय रिजर्व बैंक से 17729 करोड़ की राशि बतौर कर्ज ली गई है। ग्रामीण विकास बैंक से 934.38 तथा केन्द्र सरकार के माध्यम से एशियन डेव्लपमेंट बैंक से 394.78 करोड़ की राशि 25 वर्ष की अवधि के लिए ली गई है। इस राशि का उपयोग अनेक मदों में किया जा रहा है।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.