Tuesday, 4 February 2020

'दिल्ली को दोष देने वाली नहीं, दिशा देने वाली सरकार चाहिए' : PM



नई दिल्ली ! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी रैली में अरविंद केजरीवाल सरकार पर जमकर हमला बोला। पीएम ने कहा कि दिल्ली को दोष देने वाली नहीं, दिशा देने वाली सरकार चाहिए। उन्होंने कहा कि वोटिंग से 4 दिन पहले बीजेपी के पक्ष में ऐसा माहौल कई लोगों की नींद उड़ा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने जहां अपनी सरकार की उपलब्धियों का जमकर बखान किया, वहीं केजरीवाल सरकार पर दिल्ली के विकास की राह में रोड़ा अटकाने का आरोप लगाया। पीएम ने अरविंद केजरीवाल बयानों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि दिल्ली को ऐसी राजनीति नहीं चाहिए जो आतंकी हमले के समय भारत के पक्ष को कमजोर करे, जो अपने बयानों से दुश्मन को भारत पर वार करने का मौका दे दे।
'बीजेपी के पक्ष में माहौल से कई लोगों की नींद उड़ी'
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'कल पूर्वी दिल्ली में और आज यहां द्वारका में यह साफ हो गया है कि 11 फरवरी को क्या परिणाम आने वाले हैं। दिल्ली को बढ़ाने के लिए, राष्ट्रहित के भाव को बुलंद रखने के लिए आपके इस जोश और जुनून को मैं आदरपूर्वक नमन करता हूं। दिल्ली का यह चुनाव इस दशक का पहला चुनाव है। यह दशक भारत का दशक होने वाला है और भारत की प्रगति उसके आज लिए गए फैसले पर निर्भर करेगी। आज एक तरफ इन फैसलों को लेने वाला पक्ष और दूसरी तरफ फैसलों के खिलाफ खड़ा विपक्ष है। आज देश की राजधानी को इस दशक का 2030 तक का दिल्ली का रास्ता दिखाना है। यह काम आप सभी दिल्ली के मेरे मतदाता भाइयों-बहनों को 8 फरवरी को करना है। दिल्ली और देश के हित में इस बार एकजुट और एक स्वर में पूरी ताकत के साथ हमें खड़ा होना है।'
'दिल्ली को दोष देने वाली नहीं, दिशा देने वाली सरकार चाहिए'
उन्होंने कहा, 'दिल्ली को दोष देने वाली नहीं, दिशा देने वाली सरकार चाहिए। दिल्ली को रोड़े अटकाने वाली और नफरत फैलाने वाली राजनीति से मुक्ति चाहिए। दिल्ली को उलझाने वाली नहीं, सुलझाने वाली राजनीति चाहिए। दिल्ली को विकास की योजनाएं रोकने वाली नहीं, सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास वाला नेतृत्व चाहिए।'

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.