Tuesday, 17 December 2019

MCU में उपद्रव करने वाली तीन छात्राओं सहित 23 विद्यार्थी को निष्कासित किया



भोपाल ! माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय ने एडजंक्ट प्रोफेसर दिलीप मंडल को बर्खास्त करने की मांग करने वाले 23 विद्यार्थियों को निकाष्ति कर दिया है। इसमें तीन छात्राएं तक शामिल हैं। कुलपति दीपक तिवारी की अनुपस्थिति में विद्यार्थियों ने एमसीयू में काफी उपद्रव किया था। इससे विवि की गतिविधियां काफी प्रभावित हुई थीं। इसके चलते एमपी नगर थाने में दस विद्यार्थियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गई है। विद्यार्थियों के साथ कई संगठन एमसीयू प्रबंधन से एफआईआर वापस लेने की मांग कर चुके हैं।
एमसीयू में विद्यार्थी और संगठनों के विरोध प्रदर्शन पर विनाम नहीं लग सका है। वे लगातार प्रो. एडजंक्ट प्रोफेसर मंडल को हटाने की मांग कर रहे हैं। इसी दौरान एमसीयू ने विद्यार्थियों के प्रकरण को अनुशासन कमेटी को सौंप दिया। कमेटी ने घटनाक्रम के वीडियो फुटैज ज्यादा अवधि के होने के कारण काफी परेशानी तक उठाना पड़ी है। कमेटी ने वीडियो फुटैच का बरीकी से परीक्षण किया। इसके बाद कमेटी ने अपनी रिपोर्ट तैयार एमसीयू को सौंपी गई, जिसमें 23 विद्यार्थियों को दोषी पाया गयाहै। इसके चलते एमसीयू प्रबंधन ने उन्हें निकाष्ति कर दिया है। निकाष्ति की अवधि निर्धारित नहीं की गई है।
विद्यार्थियों को आगामी आदेश तक के लिए निकाष्ति किया गया है। वहीं एडजंक्ट प्रोफेसर दिलीप मंडल ने सोशल मीडिया पर की जाति विरोधी टिप्पणी की हैं। इसलिए उनके खिलाफ बैठी जांच की रिपोर्ट 15 दिनों में एमसीयू को मिलेगी। एमसीयू रिपोर्ट के आधार पर अपनी कार्रवाई तय करेगा।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.