Sunday, 8 December 2019

कोंग्रेसियों ने गांधीगिरी कर शिवराज के बयान पर जताई नाराजगी



भोपाल ! पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सागर में दो दिन पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ पर दिए गए बयान से कांग्रेसी खासे नाराज है। भोपाल में जनसम्पर्क मंत्री पीसी शर्मा सहित सैकड़ों कांगे्रसी सड़कों पर उतरे और गांधीगिरी कर शिवराज के बयान पर नाराजगी जताई। इससे पहले उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने शिवराज सिंह चौहान के उस बयान पर पलटवार किया था।
जिला कांग्रेस ने शिवाजी चौराहे से शिवराज सिंह चौहान के 74 बंगले स्थित सरकारी निवास तक पैदल मार्च किया। कांग्रेस नेता एवं कार्यकर्ता हाथ में गुलाब के फूल और एक ग्रीटिंग कार्ड लेकर चल रहे थे। ग्रीटिंग कार्ड पर अंग्रेजी में लिखा गेट वेल सून मामा (मामू) ।हालांकि पुलिस ने इन सब को शिवराज सिंह चौहान के बंगले के कुछ दूर पहले ही रोक दिया था। इस मौके पर कांग्रेसियों ने शिवराज के खिलाफ नारेबाजी की। बाद में वहां मौजूद पुलिस कर्मचारियों को फूल और ग्रीटिंग कार्ड देकर लौट गए।
सागर में एक प्रदर्शन के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि कमलनाथ तू किस खेत की मूली है...।इस बयान के बाद से कांग्रेस के नेता शिवराज सिंह चौहान पर जमकर पलटवार कर रहे हैं। शनिवार को उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने शिवराज सिंह के इस बयान को अमर्यादित बताते हुए कहा था कि कमलनाथ को प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता ने मुख्यमंत्री बनाया है। मुख्यमंत्री के बारे में अमर्यादित बयान नहीं देना चाहिए।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.