Wednesday, 13 March 2019

क्यूआर कोड लगाने वाला देश का पहला नेशनल पार्क वन विहार बनेगा


क्यूआर कोड लगाने वाला देश का पहला नेशनल पार्क वन विहार बनेगा


वन विहार नेशनल पार्क ने अपनी वेबसाइट भी लांच की है।
पर्यटकों को मिलेगी वन्य प्राणियों की पूरी जानकारी
वन विहार में आया तेंदुआ शावक, बिछड़ गया था मां से
भोपाल. वन विहार नेशनल पार्क का अब लुक बदला नजर आएगा। वन विहार के वन्यप्राणियों की जानकारी के लिए यहां पर क्यू आर कोड  लगा रही, जिस पर क्लिक करके पर्यटक संबंधित प्रजाति के वन्यप्राणी के विषय में जान सकेंगे। क्यूआर कोड (क्विक रिस्पांस कोड) लगाने वाला वन विहार देश का पहला नेशनल पार्क बन जाएगा। यहां आने वाले पर्यटक वन्य प्राणियों के विषय में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।
ऐसे ही वन विहार के दोनों गेट में वन्य प्राणियों के आकृति वाले कटआउट तो लग रहे है। सभी वन्यप्राणियों के बाड़े के सामने साइन बोर्ड लगाए जा रहे है। इधर, वन विहार में बुधवार की सुबह बालाघाट से एक तेंदुआ शावक पहुंचा है, उसकी उम्र 10 माह है।
वन विहार नेशनल पार्क में कई तरह के परिवर्तन किए जा रहे है। इससे पर्यटकों को सुविधा मिलेगी। यहां पर क्यू आर कोड लगाया जा रहा है, ताकि पर्यटक डिजिटल संसाधन का उपयोग करके वन्यप्राणियों के विषय में जानकारी प्राप्त कर सकते है। वन विहार नेशनल पार्क क्यूआर कोड का उपयोग करके देश का पहला नेशनल पार्क बन जाएगा। वन विहार नेशनल पार्क की वेबसाइट शुरू हो गई है। पर्यटक साइट पर जाकर वन्य प्राणियों के विषय में जानकारी ले सकते हैं।
वन विहार पहुंचा मां से बिछड़ा तेंदुआ
वन विहार नेशनल पार्क में बालाघाट से तेंदुआ शावक लाया गया है। 10 माह का शावक अपनी मां से बिछड़ गया था। बालाघाट वन डिवीजन की टीम उसे मंगलवार की रात को लेकर रवाना हुई थी। टीम ने सुबह छह बजे तेंदुआ शावक वन विहार को सौंप दिया। वन विहार की डायरेक्टर समीता राजौरा ने बताया कि  शावक की मेडिकल जांच होने के बाद शिफ्ट कर दिया है। हालांकि उसने तनाव की वजह से खाना नहीं खाया है।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.