Wednesday, 13 March 2019

सुकमा एसपी जितेंद्र शुक्ला के तबादले को लेकर मचे बवाल के बाद डीजीपी सख्त



जितेंद्र शुक्ला ने तबादले पर सवाल उठाते हुए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाली थी 
रायपुर.सुकमा एसपी जितेंद्र शुक्ला के तबादले के बाद मचे बवाल पर प्रदेश के डीजीपी डीएम अवस्थी सख्त हो गए हैं। डीएम अवस्थी ने बुधवार को एक लेटर जारी कर सभी अधीनस्थ अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि सरकारी नीतियों की मीडिया में आलोचना करने पर कार्रवाई की जाएगी।
डीजीपी ने पत्र में दिया नियमों का हवाला
डीजीपी अवस्थी ने अखिल भारतीय सेवा आचरण नियम 1968 का हवाला देते हुए कहा कि केंद्र या राज्य सरकार की नीतियों की आलोचना करते किसी भी प्रकार का दस्तावेज प्रस्तुत करना प्रतिबंधित है। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से वर्ष 2017 में जारी किए गए पत्र का हवाला देते हुए प्रावधान का उल्लंघन करने पर अनुशासनात्मक के साथ-साथ दंडात्मक कार्रवाई करने की चेतावनी दी है।
सुकमा एसपी ने अपने तबादले के बाद बयां किया था दर्द
जितेंद्र शुक्ला ने खुद को एसपी सुकमा के पद से हटाए जाने को लेकर सवाल उठाते हुए सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली थी। शुक्ला ने पोस्ट में अपने ट्रांसफर की ओर इशारा करते हुए भूपेश सरकार के फैसले को अप्रत्याशित और अवांछित बताते हुए लिखा है कि अलविदा सुकमा। सूत्रों के अनुसार- प्रभारी मंत्री कवासी लखमा के कहने पर तत्कालीन सुकमा एसपी जितेंद्र शुक्ला ने एक टीआई का ट्रांसफर नहीं किया था। इसकी परिणति में शुक्ला का ट्रांसफर हो गया।

No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.