Friday, 15 February 2019

जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले, इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि

         

जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर गुरुवार को हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय क्रिकेटरों ने ट्वीट कर हमले की निंदा की है. साथ ही शहीद जवानों को लेकर अपनी संवेदना प्रकट की है. अब इस कड़ी में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का नाम भी जुड़ गया है, जिन्होंने ट्वीट कर आतंकी हमले के बाद शहीद जवानों को लेकर ट्वीट किया है भारतीय क्रिकेटर भी इस घटना के बाद स्तब्ध हैं और अब भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने इस हमले को लेकर दुख जताया है और शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की है. विराट कोहली ने ट्वीट के जरिए सुरक्षा बलों के जवानों पर हमले को लेकर अपनी संवेदना प्रकट की है. विराट कोहली ने ट्वीट कर लिखा कि 'पुलवामा में हमले के बारे में सुनकर मैं स्तब्ध हूं, शहीद सैनिकों के प्रति हार्दिक संवेदना और घायल जवानों के जल्द ही स्वस्थ होने की कामना करता हूं.'विराट कोहली ने यह ट्वीट दो घंटे पहले ही किया है. जबकि आतंकी हमला गुरुवार को हुआ था. इससे पहले विराट के ट्वीट में देरी से आहत लोगों ने भारतीय कप्तान की खूब आलोचना भी की थी. दरअसल, गुरुवार को आतंकी हमले से देश शोक में था. लेकिन, उसी दिन कोहली के स्पोर्ट्स क्लब का एड करना देश की जनता को पसंद नहीं आया और उन्होंने ट्विटर पर ही विराट को घेर लिया. विराट कोहली ने इस आतंकी हमले के बाद भी इंडियन स्पोर्ट्स ऑनर के लिए ट्वीट कर वोट की मांग कर रहे थे इस आतंकी हमले से जहां पूरे देश में शोक की लहर छायी हुई है और हर कोई शहीद जवानों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए आतंकियों के खिलाफ जबरदस्त गुस्से में हैं. ऐसे में कोहली का यह प्रमोशनल ट्वीट लोगों को पसंद नहीं आया बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में अवंतीपोरा के गोरीपोरा इलाके में सुरक्षाबलों के काफिले पर जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन ने फिदायीन हमला किया. जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों पर अब तक के सबसे बड़े फिदायीन हमले में 37 जवान शहीद हो गए. जम्मू एवं कश्मीर में 1989 में आतंकवाद के सिर उठाने के बाद से हुए अब तक के सबसे बड़े आतंकी हमले में एक आत्मघाती हमलवार ने गुरुवार को पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अपनी विस्फोटकों से लदी एसयूवी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की बस से टकरा दी और उसमें विस्फोट कर दिया. इस आतंकी हमले में अभी तक 37 जवान शहीद हुए हैं.

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.