Saturday, 2 February 2019

स्थाई पेजयल व्यवस्था की कार्य-योजना बनाने के निर्देश, राज्य स्तरीय कार्यशाला में मंत्री पांसे

स्थाई पेजयल व्यवस्था की कार्य-योजना बनाने के निर्देश, राज्य स्तरीय कार्यशाला में मंत्री पांसे
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री सुखदेव पांसे ने गरमी के मौसम में पेयजल व्यवस्था की राज्य स्तरीय कार्यशाला में निर्देश दिये कि प्रदेश में पेयजल की स्थाई व्यवस्था के लिए विस्तृत कार्य-योजना बनाई जाये। । प्रत्येक विभागीय अधिकारी और कर्मचारी को इस व्यवस्था को सफल बनाने के लिये दिन-रात काम करना होगा। उन्होंने कहा कि गरमी के मौसम में लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के कार्य को चुनौती के रूप लेना होगा। यह मानव सेवा का कार्य है। मंत्री पांसे ने कहा कि जन-प्रतिनिधियों के निर्देशों का अधिकारी पालन करें। उनके द्वारा बताये गये कार्यो को गंभीरता से समय पर पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कहीं से भी पेयजल की समस्या की शिकायत नहीं मिलना चाहिए। शिकायत आने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। पांसे ने कहा कि अधिकारी ग्रामीण क्षेत्रों का निरंतर दौरा करें। प्रदेश की भौगोलिक आवश्यकता अनुसार जन-प्रतिनिधियों से चर्चा करें, कार्य योजनाएँ बनायें और उन्हें पूरा करें। राज्य स्तरीय कार्यशाला में प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल, प्रमुख अभियन्ता के.के. सोनगरिया और प्रदेश के सभी अधीक्षण यंत्री और कार्यपालन यंत्री उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.