Saturday, 26 May 2018

आगर-मालवा में सम्पन्न हुआ तेंदूपत्ता संग्राहक, श्रमिक और महिला सम्मेलन

आगर-मालवा में सम्पन्न हुआ तेंदूपत्ता संग्राहक, श्रमिक और महिला सम्मेलन

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में विकास की नई इबारत लिखी जा रही है, जिसे कोई नहीं बदल पायेगा। किसानों को सभी योजनाओं का भरपूर लाभ दिया जा रहा है। जन-कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की ग्रामीण-स्तर पर समीक्षा की जायेगी। जिला कलेक्टर एवं स्थानीय जन-प्रतिनिधि द्वारा चयनित गाँव के ही 5 व्यक्तियों की टीम यह समीक्षा करेगी। मुख्यमंत्री आज आगर-मालवा में तेंदूपत्ता संग्राहक, श्रमिक एवं महिला सम्मेलन तथा स्वच्छता सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे।
आगर-मालवा शहर में विभिन्न सामाजिक संगठनों और नगरवासियों ने फूलों की बौछार और पुष्पाहारों से मुख्यमंत्री का आत्मीय स्वागत किया।
श्री चौहान ने कहा कि मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना गरीबों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाने के लिये बनाई गई है। इस योजना में गरीब, जरूरतमंद लोगों तथा श्रमिकों को शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया जायेगा। हर गरीब व्यक्ति को आवासीय पट्टा दिया जायेगा और आवास बनाने के लिये आर्थिक सहायता भी दी जायेगी। योजना की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि योजना में सभी हितग्राहियों को समान रूप से लाभान्वित किया जायेगा। श्री चौहान ने बताया कि महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिये स्व-सहायता समूह के माध्यम से प्रशिक्षण एवं ऋण दिलवाया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों के कल्याण के लिये सदैव सजग रहती है। किसानों के जीवन को चिंतामुक्त बनाने के साथ-साथ खेती को लाभकारी व्यवसाय बनाने के लिये विभिन्न योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जा रहा है।
समारोह में शाजापुर एवं आगर-मालवा जिले के 1617 तेंदूपत्ता संग्राहकों को चरण-पादुका, पानी की कुप्पी प्रदान की गई। साथ ही 777 महिला संग्राहकों को साड़ी भेंट की गई। मुख्यमंत्री ने करीब 148 करोड़ लागत के 53 निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन किया।
मुख्यमंत्री ने कालीबाई को पहनाई चरण-पादुका
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सम्मेलन में तेंदूपत्ता संग्राहक कालीबाई को अपने हाथों से चरण-पादुका पहनाई और पानी की कुप्पी तथा साड़ी भेंट की।
समारोह में जिला प्रभारी मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा, सांसद श्री मनोहर ऊँटवाल, विधायक सर्वश्री गोपाल परमार, मुरलीधर पाटीदार, अरुण भीमावत, जसवंत सिंह हाड़ा, इंदर सिंह परमार, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कलाबाई गोहाटिया, अन्य जन-प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.