Thursday, 19 April 2018

मुख्यमंत्री ने तेन्दूपत्ता संग्राहकों के खातों में ट्रान्सफर किये बोनस के 26 करोड़


मुख्यमंत्री ने तेन्दूपत्ता संग्राहकों के खातों में ट्रान्सफर किये बोनस के 26 करोड़

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सिंगरौली के सरई में तेंदूपत्ता संग्राहक एवं श्रमिक सम्मेलन में वन क्लिक से 2 लाख 40 हजार तेंदूपत्ता संग्राहकों के बैंक खाते में सीधे 26 करोड़ रुपये का तेंदूपत्ता बोनस हस्तांतरित किया। श्री चौहान ने सवा लाख तेंदूपत्ता संग्राहकों को चरण-पादुकाएँ एवं पानी की बोतल दी और हितग्राहियों को वनाधिकार-पत्रों का वितरण किया। उन्होंने संग्राहक कलावती तथा दिगपाल को स्वयं चरण-पादुकाएँ पहनाईं।
महत्वपूर्ण घोषणाएँ
श्री चौहान ने सरई में बायपास निर्माण और आईटीआई खोलने की घोषणा करते हुए कहा कि तेंदूपत्ता संग्रहण की मजदूरी में भी वृद्धि की गई है। अब एक मानक बोरा के लिये 1250 रुपये के स्थान पर 2000 रुपये दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि महुआ फूल बीनने वालों को भी चरण-पादुकाएँ दी जायेंगी। श्री चौहान ने हर पात्र व्यक्ति को वनाधिकार-पत्र का लाभ देने के निर्देश दिये।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंगरौली जिले में 4 लाख से अधिक श्रमिकों का राज्य शासन की योजना में पंजीयन हुआ है। इन्हें शिक्षा, उपचार और प्रसूति सहायता सहित अन्य योजनाओं में सहायता दी जायेंगी। उन्होंने कहा कि कच्चे मकान और झोपड़ी में रहने वाले श्रमिकों को अगले 4 साल में पक्के मकान बनवाकर दिये जायेंगे। इस योजना में सिंगरौली को हर वर्ष 17 हजार से अधिक आवास मिलेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले के 56 हजार परिवारों को सौभाग्य योजना में अक्टूबर माह तक नि:शुल्क बिजली कनेक्शन दिया जायेगा। गरीब व्यक्ति को अब सिर्फ 200 रूपये प्रतिमाह फ्लेट रेट पर बिजली का बिल देना होगा।
14 करोड़ से ज्यादा के निर्माण कार्य लोकार्पित
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 14 करोड़ 30 लाख की लागत के निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया। साथ ही, 165 करोड़ की लागत के निर्माण कार्यों का शिलान्यास किया। उन्होंने समारोह के प्रारंभ में कन्या-पूजन किया और उपस्थितों से भेंट कर उनके आवेदन लिये।
सम्मेलन में उद्योग मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल, सांसद श्रीमती रीति पाठक, विधायक श्री राजेन्द्र मेश्राम, श्री रामलल्लू वैश्य, श्री कुँवर सिंह टेकाम, विंध्य विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री सुभाष सिंह और महापौर श्रीमती प्रेमवती खैरवार भी मौजूद थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.