Monday, 30 April 2018

नव अर्पण लोक शिक्षण संस्थान का लोकार्पण मुख्यमंत्री द्वारा


नव अर्पण लोक शिक्षण संस्थान का लोकार्पण मुख्यमंत्री द्वारा

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि रोटी-कपड़ा और मकान के साथ इलाज सभी का बुनियादी अधिकार है। इसके लिये मध्यप्रदेश सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाएँ देने वाले निजी अस्पतालों को भी सुविधा दी जायेगी। साथ ही आयुष्मान भारत के अंतर्गत स्वास्थ्य बीमा योजना का संचालन मध्यप्रदेश में ट्रस्ट द्वारा किया जायेगा। मुख्यमंत्री आज यहाँ निजी क्षेत्र के नव अर्पण लोक शिक्षण संस्थान का शुभारंभ कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आम-आदमी को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाए मुहैया कराने के लिये आयुष्मान भारत योजना शुरू की है। इस अभूतपूर्व स्वास्थ्य बीमा योजना के अंतर्गत लगभग 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये तक के नि:शुल्क उपचार की सुविधा मिलेगी। प्रदेश में इस योजना का संचालन किसी बीमा कंपनी के द्वारा नहीं बल्कि ट्रस्ट द्वारा किया जायेगा। इस योजना में 60 प्रतिशत राशि केन्द्र सरकार द्वारा और 40 प्रतिशत राशि राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करवायी जायेगी।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चिकित्सा तकनीशियनों के प्रशिक्षण के लिये नव अर्पण लोक शिक्षण संस्थान को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इससे जहाँ प्रदेश को कुशल चिकित्सा तकनीशियन मिलेंगे वहीं दूसरी ओर प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।
राजस्व मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि प्रशिक्षित तकनीशियनों के उपलब्ध होने से स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध करवाने में सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने हर वर्ग के कल्याण के लिये ठोस कार्यक्रम बनाये हैं। कार्यक्रम में डॉ. आनंद सक्सेना ने बताया कि संस्थान में युवाओं को मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना एवं मुख्यमंत्री कौशल्या योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण दिया जायेगा। इस अवसर पर विधायक श्री रामेश्वर शर्मा, मध्यप्रदेश रोजगार एवं कौशल संवर्धन बोर्ड के अध्यक्ष श्री हेमंत देशमुख एवं अन्य जन-प्रतिनिधि तथा चिकित्सक उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.