Thursday, 8 March 2018

सिंगापुर में जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस पर बोले राहुल


सिंगापुर में जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस पर बोले राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तीन दिन के सिंगापुर और मलेशिया दौरे पर हैं। गुरुवार को सिंगापुर में उन्होंने यहां की नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर के ली क्वां यू स्कूल ऑफ पब्लिक पॉलिसी में छात्रों को संबोधित किया। इससे पहले उन्होंने सिंगापुर में भारतीय पृष्ठभूमि के सीईओ से नौकरी, निवेश और आर्थिक हालातों पर बात की। यहां उनके सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली हसेन लूंग और मलेशिया में वहां के प्रधानमंत्री नजीब रजाक से भी मुलाकात का कार्यक्रम है। राहुल गांधी ने सिंगापुर के आईएनए मेमोरियल में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर का माल्यार्पण कर उनके प्रति सम्मान प्रकट किया। लेकिन हम यहां बात उनके सिंगापुर-मलेशिया दौरे की नहीं, बल्कि यहां छात्रों से उन्होंने जो कुछ कहा उस पर करेंगे। एक्सपर्ट से यह भी जानेंगे कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आत्मज्ञान विदेशी धरती पर ही क्यों होता है?
कांग्रेस अध्यक्ष ने एक बार फिर देश की अंदरूनी व्यवस्था पर उंगली उठाने और केंद्र सरकार पर हमला करने के लिए विदेशी धरती चुनी। सिंगापुर में राहुल गांधी ने भारतीय सुप्रीम कोर्ट के चार जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बारे में बात की। उनसे इस संबंध में सवाल पूछ गया तो उन्होंने कहा, लोग इंसाफ के लिए न्यायपालिका के पास जाते हैं, लेकिन पहली बार चार जज इंसाफ के लिए लोगों के पास आए। बता दें कि पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट के चार न्यायाधीशों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर सुप्रीम कोर्ट के हालात के बारे में बताया था, जो उनके अनुसार ठीक नहीं थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.