Thursday, 15 March 2018

अजय देवगन की RAID में सच्ची कहानी को बेहतर ढंग से पेश किया है

अजय देवगन की RAID में सच्ची कहानी को बेहतर ढंग से पेश किया है

'आमिर', 'नो वन किल्ड जेसिका' जैसी फिल्मों को डायरेक्ट करने वाले डायरेक्टर राजकुमार गुप्ता ने इस बार 80 के दशक में हुई भारत की सबसे बड़ी इनकम टैक्स रेड पर फिल्म 'रेड' बनाई है, जिसमें अजय देवगन और इलियाना डिक्रूज लीड रोल में हैं. जानते हैं कैसी बनी है ये फिल्म और क्या है इसकी कमजोर कड़ियां...
कहानी:
यह कहानी 1981 के लखनऊ, उत्तर प्रदेश की है. यहां के इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में ऑफिसर अमय पटनायक (अजय देवगन) का ट्रांसफर हो जाता है. वो अपनी पत्नी मालिनी पटनायक (इलियाना डिक्रूज) के साथ यहां आते हैं. डिपार्टमेंट में उनके अंदर लल्लन (अमित सयाल) और बाकी लोग काम करते हैं . जब अमय को पता चलता है कि रामेश्वर सिंह उर्फ ताऊजी (सौरभ शुक्ला) ने अपने घर बहुत पैसा छुपाया है तो वो अपनी टीम के साथ उनके घर रेड मारने जाते हैं. इसके बाद फिल्म में बहुत ट्विस्ट एंड टर्न्स आते हैं और एकके बाद एक कई घटनाओ का पर्दाफ़ाश होता है.


No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.