Monday, 19 February 2018

‘‘जनता अब बदलाव चाहती है’’: भगवानसिंह यादव


 ‘‘जनता अब बदलाव चाहती है’’: भगवानसिंह यादव


मुंगावली एवं कोलारस विधान सभा क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में प्रचार करने के बाद म.प्र. कॉग्रेस सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रान्ताध्यक्ष एवं म.प्र. शासन के पूर्व मंत्री श्री भगवान सिंह यादव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि विगत 15 वर्षो से झूठे वायदों को सुन सुनकर मतदाता ऊब गये हैं तथा अब जनता बदलाव चाहती है। यह चुनाव मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस तथा सिन्धिया की प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है। इसमें मुख्यमंत्री के अलावा 17 मंत्री, 2 केन्द्रीय मंत्री, सांसद, दर्जन बड़े नेताओं तथा संघ की फौज लगी है तथा इस चुनावी महासंग्राम में श्री सिन्धिया प्रदेश के सभी कॉग्रेस के वरिष्ठ 7 नेताओं के साथ मोर्चा साधे हुये हैं और पूरी कांग्रेस एक मत होकर चुनाव लड़ रही है, इसमें जीत कांग्रेस की ही होगी।
प्रदेश सरकार द्वारा लागू की गयी नोटबंदी, जी.एस.टी. तथा भावान्तर योजना प्रारम्भ करवाये जाने से किसानों को हुई भारी परेशानी तथा कृषकों को खाद, यूरिया, सुपरफास्ट, बिजली, पेट्रोल-डीजल, एल.पी.जी. गैस, यात्रा किराया, दाल सब्जी के भाव आसमान पर पहुॅच जाने तथा ओलावृष्टी से किसानों की फसल नष्ट होजाने एवं किसानों के उत्थान के प्रमुख श्रोत सहकारी संस्थाओं, भूमि विकास बैंक, तिलहन संघ को भंग कर देने तथा अन्य संस्थाओं को भिन्न भिन्न कर देने से किसान, व्यापारी, मजदूर एवं गरीब वर्ग भारी परेशान है। प्रदेश में 16 लाख शिक्षित युवक बेरोजगार होने से दुखी हैं। प्रदेश में बिना बिजली खरीदें, 6626 करोड़ों का भुगतान कर देने, 2 वर्षो में प्रदेश में 9.32 अरब की खनन की अवैध निकासी होने, मुंगावली के 8500 किसानों को फसल बीमा क्लेम की 3 करोड़ 97 लाख की राशि का भुगतान न करने प्रदेश के नौजवानों के साथ अन्याय करते हुये पुलिस भर्ती में सम्पूर्ण भारत के नौजवानों को आमंत्रित करने तथामुंगावली में 17 हजार तथा 8 हजार कौलारस में फर्जी मतदाताओं का मामला उजागर होने, तथा गेहूं एवं प्याज खरीदी में हुये भ्रष्टाचार का मामला के अलावा मुख्यमंत्री द्वारा 12 हजार की गयी घोषणाओं में से 8500 घोषणायें लम्बित होने सम्बन्धी आरोपों के कारण जनता दुखित है तथा झूठे वायदे सुन सुन कर ऊब गई है, इसलिये जनता अब बदलाव चाहती है, इसलिये मुंगावली एवं कैलारस चुनाव में जनता के सहयोग से कांग्रेस विजयी होगी।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.