Thursday, 23 November 2017

भारत-श्रीलंका दूसरा टेस्ट आज से, जीत के इरादे से उतरेंगी दोनो टीमें

भारत-श्रीलंका दूसरा टेस्ट आज से, जीत के इरादे से उतरेंगी दोनो टीमें 
तेज गेंदबाज विजय शंकर कर सकते हैं पदार्पण
पहले टेस्ट में खराब मौसम के कारण जीत की दहलीज पर आकर भी उसे हासिल नहीं कर पाई टीम इंडिया अब शुक्रवार से यहां शुरु हो रहे दूसरे टेस्ट में जीत के साथ ही सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल करना चाहेगी। पहले टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों के अलावा तेज गेंदबाजों ने भी शानदार प्रदर्शन किया था जिसे वह एक बार फिर दोहराना चाहेंगे हालांकि टीम को तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की कमी खेलेगी। यह दोनो ही निजी कारणों से टीम से बाहर हैं। भुवनेश्वर ने शादी के कारण दूसरे टेस्ट से नाम वापस ले लिया था। भारतीय टीम दसरे टेस्ट में जीत के लिए पूरी ताकत झोंक देगी। अब तक के प्रदर्शन को देखा जाये तो भारतीय टीम का पलड़ा भारी है। इसके अलावा आंकड़े भी कप्तान विराट कोहली की टीम के साथ हैं।

जामथा में विदर्भ क्रिकेट एसोशिएशन मैदान पर हरी भरी पिच से तेज गेंदबाजों को सहायता मिलेगी हालांकि पहली गेंद फेंके जाने तक यह कहना कठिन है कि इसमें कितना उछाल होगा। ऐसे में मो शमी, उमेश यादव वह ईशांत शर्मा प्रभावी हो सकते हैं।
भारतीय कप्तान विराट ने कहा ,‘यह अच्छी पिच लग रही है। पहले दो दिन यह तेज गेंदबाजों की मददगार साबित होगी।भारत के लिए चुनौती इन हालात में बेहतर प्रदर्शन की होगी। ईडन गार्डन्स की तुलना में यहां रन बनाना उतना कठिन नहीं होगा। टीम इंडिया की बल्लेबाज विराट के अलावा रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे पर निर्भर करेगी। पहले मैच में कोहली ने दबाव के हालात में शानदार शतक लगाकर भारत को बड़ा स्कोर बनाने में सहायता की थी। वहीं मेहमान लंकाई टीम के गेंदबाज सुरंगा लकमल शानदार गेंदबाजी कर रहे हैं और उनका सामना करना विराट और उनके साथियों के लिए बड़ी चुनौती होगी।
इस मैच में सलामी बल्लेबाज मुरली विजय को अंतिम एकादश में शामिल करना तय मान जा रहा है क्योंकि उन्हें धवन की जगह शामिल किया गया था।
वहीं ईशांत का भी अंतिम एकादश में शामिल होना तय है, जो मौजूदा टेस्ट टीम में सबसे ज्यादा अनुभवी खिलाड़ी है। उन्होंने अब तक 77 टेस्ट खेल लिये हैं। भुवनेश्वर कुमार शादी के कारण बाहर हैं, लिहाजा ईशांत उनकी जगह उतरेंगे। उन्होंने रणजी ट्रॉफी में 116 ओवरों में 20 विकेट लिये हैं और इन सभी मैचों में उन्होंने दिल्ली की कप्तानी भी की।
इस मैच में भारतीय टीम दो स्पिनरों के साथ उतरती है या नहीं यह देखना अभी बाकि है। ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा गेंदबाज या बल्लेबाज के रूप में कोई कमाल नहीं कर सके ऐसे में उन्हें अंतिम एकादश में शामिल किय जाना तय नहीं है। बदलाव के तौर पर चाइनामैन कुलदीप यादव को भी शामिल किया जा सकता है। वैसे तेज गेंदबाज विजय शंकर को भी टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण का मौका मिल सकता है।
शंकर के पास खतरनाक रफ्तार नहीं है, लेकिन 120 किलोमीटर की गति से वह 32 प्रथम श्रेणी मैचों में 27 विकेट ले चुके हैं। वहीं बल्लेबाजी में 49.16 की शानदार औसत से पांच शतक और 10 अर्धशतक जड़े हैं। हार्दिक पंड्या के बाहर रहने से शंकर को छठे नंबर पर भेजा जा सकता है। तीन रणजी मैचों में उन्होंने एक शतक समेत 118 रन बनाए और छह विकेट लिए.
वहीं दूसरी ओर मेहमान श्रीलंकाई टीम पहला टेस्ट में अपने बल्लेबाजी क्रम के अचानक ढ़हने से परेशान होगी अच्छी शुरुआत के बाद भी वह रन नहीं बना पायी। तेज गेंदबाज लाहिरू गमागे को खराब फॉर्म के कारण बाहर किया जा सकता है। विश्वा फर्नांडो को उनकी जगह मौका मिल सकता है। इसके अलावा चाइनामैन लक्षण संदाकना को भी शामिल किया जा सकता है। हाल के दिनों में संदाकना ने काफी अच्छा प्रदर्शन किय था।
दोनो टीमें इस प्रकार हैं : भारत : विराट कोहली ( कप्तान), के एल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋद्धिमान साहा, आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, ईशांत शर्मा, विजय शंकर, कुलदीप यादव, रोहित शर्मा।

श्रीलंका : दिनेश चांडीमल ( कप्तान ), एंजेलो मैथ्यूज, दिमुथ करुणारत्ने , निरोशन डिकवेला, धनंजय डिसिल्वा, सुरंगा लकमल, दासुन शनाका, विश्वा फर्नांडो, लाहिरू गमागे, लक्षण संदाकन, सदीरा समरविक्रमा, दिलरूवान परेरा और रोशन सिल्वा।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.