Sunday, 12 November 2017

चित्रकूट उपचुनाव में भाजपा की करारी हार, 14133 वोटों से जीती कांग्रेस

चित्रकूट... कांग्रेस के किले को भेद नहीं पाई भाजपा
- चित्रकूट उपचुनाव में भाजपा की करारी हार, 14133 वोटों से जीती कांगे्रस
- तीसरे नंबर रहा नोटा
मध्य प्रदेश के सतना जिले की चित्रकूट विधानसभा उप चुनाव में कांगे्रस ने अपना किला अभेद्य रखा। रविवार को की गई मतगणना हुई, जिसमें कांग्रेस प्रत्याशी ने जीत दर्ज कराई। कांग्रेस विधायक प्रेमसिंह के निधन से खाली हुई सीट में कांग्रेस प्रत्याशी नीलांशु चतुर्वेदी ने 14133 वोटों से भाजपा के शंकर दयाल त्रिपाठी को हराया। गौरतलब है कि करीब एक साल बाद ही प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं। कांग्रेस प्रत्याशी नीलांशु चतुर्वेदी को कुल 66810 मत मिले, जबकि भाजपा के शंकर दयाल को 52477 मत मिले। कांग्रेस की परंपरागत सीट पर कब्जा जमाने के लिए सत्ताधारी दल ने पूरी ताकत झोंक दी थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित आधा दर्जन मंत्रियों ने मोर्चा संभाला था। खास बात यह है कि चुनाव में तीसरे नंबर पर नोटा रहा। नोटा का अर्थ किसी भी प्रत्याशी को पसंद न किया जाना होता है।

जहां मुख्यमंत्री ने रात गुजारी वहां बड़ा झटका
चुनाव प्रचार के दौरा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्राम तुर्रा में आदिवासी लालमन गोंड़ के यहां एक बिताई थी। उस वक्त मुख्यमंत्री के लिए आलीशान सुविधाएं प्रशासन ने जुटाई, तत्काल शौचालय निर्माण कराया गया, नया पलंग-बिस्तर लाया गया, लेकिन सीएम के जाते ही सारी सुविधाएं वापस कर ली गईं। इस गांव में कांग्रेस 413 और भाजपा को 203 वोट मिले। यह हंसी का विषय बन गया है।
ससुराल में भी हार गए त्रिपाठी
भाजपा प्रत्याशी शंकरदयाल त्रिपाठी अपने ससुराल सिंहपुर में भी हार गए। यहां कांग्रेस उम्मीदवार को 519 और भाजपा को 196 वोट मिले।
योगी व मौर्य भी नहीं दिखा पाये प्रभाव
उपचुनाव से ठीक पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी चित्रकूट का कई बार दौरा किया। कामदगिरी मंदिर की पांच किलोमीटर की परिक्रमा में भी हिस्सा लिया था। यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने तो बकायदा चित्रकूट में रोड शो भी किया था।

प्रत्याशी पार्टी    वोट
नीलांशु चतुर्वेदी कांग्रेस   66,810
शंकर दयाल त्रिपाठी     भाजपा  52,677
नोटा   नोटा   2455
महेश साहू      हिन्दु महासभा   1048
अवधबिहारी मिश्रा निर्दलीय 396
दिनेश कुशवाह   निर्दलीय 368
देवमन सिंह     निर्दलीय 1010
प्रभात कुमारी    निर्दलीय 837
महेन्द्र मिश्रा    निर्दलीय 209
रजा हुसैन      निर्दलीय 233
राधा    निर्दलीय 318
रितेश त्रिपाठी   निर्दलीय 1137
शिववरण       निर्दलीय 1160

कोने-कोने में विकास मेरा लक्ष्य
उपचुनाव में जनता के निर्णय को शिरोधार्य करता हूं। जनमत ही लोकतंत्र का असली आधार है। जनता के सहयोग के लिए आभार व्यक्त करता हूं। चित्रकूट के विकास में किसी तरह की कमी नहीं होगी। प्रदेश के कोने-कोने का विकास ही मेरा परम ध्येय है।
-शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री
...........
राम की नगरी में कांग्रेस
कांग्रेस की विजय कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम का परिणाम है। यह जीत कार्यकर्ताओं की जीत है। चित्रकूट की जनता ने कांग्रेस पर जो भरोसा व्यक्त किया है उसे इस क्षेत्र का सर्वांगीण विकास करके पूरा किया जायेगा। नतीजे राजनीतिक बदलाव के संकेत हैं। यह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के अथक प्रयास का परिणाम है।
राम की नगरी में कांग्रेस
- अजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष
..........
यह कांग्रेस की परंपरागत सीट
प्रदेश में कुछ सीटें कांग्रेस की परंपरागत हैं। भविष्य में भी इन सीटों पर कांग्रेस की जीत होगी। हम इस चुनाव में हार की समीक्षा करेंगे और आगे की तैयारी करेंगे। इस हार का 2018 के विधानसभा चुनाव पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।
- नंदकुमार सिंह चौहान, अध्यक्ष, भाजपा, मप्र
..................
शिवराज के वनवास की शुरुआत
चित्रकूट उपचुनाव मे कांग्रेस की जीत पर  सभी मतदाताओ का आभार। कांग्रेस प्रत्याशी व सभी कांग्रेसजनों को जीत की बधाई। यह जनादेश शिवराज सरकार के प्रदेश से वनवास की शुरुआत है। भाजपा व शिवराज,कांग्रेस के विजयरथ को अब नही रोक सकते। चित्रकूट का इतिहास मूँगावली व कोलारस मे भी कांग्रेस दोहरायेगी।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.