Saturday, 4 November 2017

ऐतिहासिक बुरहानपुर ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ हस्ताक्षर महा-अभियान में रचा इतिहास

ऐतिहासिक बुरहानपुर ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ हस्ताक्षर महा-अभियान में रचा इतिहास


महा-अभियान में एक दिन में 6 लाख 53 हजार नागरिकों ने किये हस्ताक्षर
महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस की पहल पर 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' महा-अभियान अंतर्गत 3 नवम्बर को संपूर्ण बुरहानपुर जिले में आयोजित हस्ताक्षर महा-अभियान में जन-जन ने भाग लेकर एक नया इतिहास रच दिया। अभियान में महिलाएं, पुरुष, बच्चे, बुजुर्गों, युवक-युवतियों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' के लिए पहल करने का संदेश दिया। अभियान में 5 लाख हस्ताक्षर का लक्ष्य था, किन्तु बुरहानपुर में ऐतिहासिक उत्साह का प्रदर्शन करते हुए 6 लाख 53 हजार नागरिकों ने हस्ताक्षर किए जो कि निर्धारित लक्ष्य से लगभग डेढ़ लाख अधिक है।
महा-अभियान को लेकर पूरे जिले में सकारात्मक वातावरण पहले ही निर्मित हो चुका था। बेटियों-महिलाओं को पुरुषों की तुलना में कमतर बताने की सोच को बदलने, महिला-पुरुष समानता पर जिले में नुक्कड़ नाटक, निबंध, वाद-विवाद प्रतियोगिता, पोस्टर निर्माण, रैलियाँ, चित्रकला के माध्यम से लोगों को जोड़ा गया। शाला स्तर पर विशेष पैरेन्ट मीट आयोजित की गई। परिणामस्वरूप शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए बनाए गए केन्द्रों पर सुबह से ही भीड़ देखने को मिली। संपूर्ण जिले में उत्सव जैसा वातावरण रहा, सभी केन्द्रों पर लाउडस्पीकर के माध्यम से 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' विषय पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान एवं महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस के संदेशों के साथ बेटियों पर आधारित गीत भी प्रसारित किए जाते रहे।
मंत्री श्रीमती चिटनिस ने बताया बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ महा-अभियान के तहत नागरिकों में जागरूकता लाने और बेटियों के प्रति नकारात्मक मनोवृत्ति बदलने के लिये विभिन्न स्थानों पर एक साथ हस्ताक्षर अभियान संचालित किया गया। यह महा-अभियान बेटी को दुनिया में आने देने, बेटी को पढ़ाने-बढ़ाने के लिये सही वातावरण देने के प्रति जन-सामान्य को संवेदनशील बनाने और समाज को इस दिशा में एकमत बनाने के लिये यह अभियान सबसे पहले बुरहानपुर में आरंभ किया गया। अभियान के अंतर्गत प्राप्त जन-सहभाहिगता के दस्तावेज राज्य शासन द्वारा भारत सरकार को सौंपे जाएंगे।
महा-अभियान में नगरीय तथा ग्रामीण क्षेत्र में अलग-अलग माध्यम से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के प्रति लोगों ने अपनी भावनाएं व्यक्त की हैं। शाहपुर क्षेत्र में कलात्मक रंगोली के माध्यम से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया गया। श्रीमती अर्चना चिटनिस ने इंदौर-इच्छापुर हाईवे, सिन्धी बस्ती, शनवारा सिगनल, कमल चौक, गाँधी चौक, इकबाल चौक, लालबाग और शाहपुर के विभिन्न वार्डों में जन-सामान्य को अभियान से जोड़ते हुए हस्ताक्षर करवाये।

महा-अभियान में बुरहानपुर जिले के सार्वजनिक स्थानों, कृषि उपज मंडी, रेलवे स्टेशन, बस स्टेण्ड, मिल, स्कूलों, कॉलेजों, आँगनवाड़ी केन्द्रों, चिकित्सालयों और शासकीय कार्यालयों सहित अनेक स्थानों पर लगे स्टालों पर नागरिकों ने हस्ताक्षर किये। अभियान में जन-प्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संगठनों, राष्ट्रीय सेवा योजना, एनसीसी, शासकीय अधिकारी व कर्मचारियों ने सहभागिता की। एक दिन में एक समय पर लगभग एक हजार से अधिक स्थानों पर अभियान के अन्तर्गत जन-सामान्य द्वारा संकल्प पत्र पर हस्ताक्षर किये गये।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.