Thursday, 12 October 2017

ईको पर्यटन विकास कार्यों की समीक्षा

ईको पर्यटन विकास कार्यों की समीक्षा
प्रभारी मंत्री श्री गुप्ता ने सागर जिले में ईको पर्यटन विकास कार्यों की समीक्षा की। बैठक में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव उपस्थित थे। बैठक में बताया गया कि सागर में जू एण्ड रेस्क्यू सेंटर की स्थापना की जा रही है। इसके पहले चरण की मंजूरी प्राप्त हो चुकी है। रमना ईको टूरिज्म पार्क गढ़ाकोटा, पथरिया जाट हरित पर्यटन पार्क, खुरई स्थित सिद्धधाम ईको टूरिज्म सेंटर, कनेरागौड़ का विकास कार्य प्रगति पर है। इसके अलावा मालथौन में वल्चर प्वाइंट और राजकीय मछली महाशीर हेतु एगलिंग स्थलों, राहतगढ़ स्थित वाटर फॉल का सौंदर्यीकरण कार्य प्रस्तावित है। आपचंद की गुफाएँ विश्व-स्तर पर पर्यटकों का ध्यान आकृष्ट कर रही हैं। इस अवसर पर जानकारी दी गई कि बुन्देलखण्ड को शास्त्रीय नृत्य में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने वाली कत्थक नृत्यांगना श्रीमती शाम्भवी शुक्ला को जिले का ब्राण्ड एम्बेसडर बनाया गया है। बैठक में सागर पर्यटन विकास परिषद द्वारा प्रकाशित 'सागर पर्यटन'' पुस्तिका का विमोचन किया गया।

इस अवसर पर स्वच्छता अभियान में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले अधिकारियों को प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने कहा कि पर्यटन-स्थलों तक आसानी से पहुँच सुनिश्चित करने के लिए मार्गों पर संकेतक, रोड संरचना, सूचना केन्‍द्र की स्थापना की जाए। बैठक के बाद मंत्रिद्वय ने वृक्षारोपण किया। इस अवसर पर स्कूल एवं कॉलेज के छात्र-छात्राओं द्वारा नुक्कड़ नाटक 'पेड़ की पुकार'' का मंचन कर वृक्षों के संरक्षण एवं महत्व पर संदेश दिया गया।
अंत्योदय मेले में प्रभारी मंत्री

देवरी में प्रभारी मंत्री श्री गुप्ता के मुख्य आतिथ्य में विकासखण्ड स्तरीय अंत्योदय मेला सम्पन्न हुआ। मेले में 8 करोड़ 85 लाख रुपये की राशि के हित-लाभ हितग्राहियों को वितरित किये गए। कुपोषित बच्चों के परिवार को अटल बाल आरोग्य मिशन में 150 स्वच्छता किट दिये गये।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.