Wednesday, 4 October 2017

किसानों को जरूरत के मुताबिक क्राप पैटर्न बदलना होगा: मुख्यमंत्री श्री चौहान



किसानों को जरूरत के मुताबिक क्राप पैटर्न बदलना होगा: मुख्यमंत्री श्री चौहान
देवरी को नगर पंचायत एवं पूर्ण तहसील का दर्जा मिलेगा
देवरी किसान महासम्मेलन में 1800 करोड़ रूपये की माइक्रो सिंचाई योजना की घोषणा
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश सरकार किसानों के कल्याण और विकास के लिए निरंतर काम कर रही है। किसानों के हितों की रक्षा के लिये ही भावांतर भुगतान योजना लागू की गई है। इसके अंतर्गत बिक्री मूल्य और समर्थन मूल्य के अंतर की राशि सरकार द्वारा किसान के बैंक खाते में जमा की जाएगी। श्री चौहान ने कहा है कि कम वर्षा वाले क्षेत्रों में किसानों की हरसंभव मदद की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को जरूरत के मुताबिक क्राप पैटर्न बदलना होगा। श्री चौहान रायसेन जिले के अंतर्गत देवरी में आयो‍जित किसान महासम्मेलन में विशाल जन-समुदाय को संबोधित कर रहे थे।

श्री चौहान ने बताया कि आज प्रदेश में 26 लाख लाड़ली बेटियां लखपति बन गई हैं। महिलाओं को पंचायतों एवं नगरीय निकायों में 50 प्रतिशत आरक्षण देने से महिलाओं में नेतृत्व क्षमता बढ़ी है। पुलिस में महिलाओं को 30 प्रतिशत आरक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कक्षा 12वीं में 85 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले छात्रों को लैपटॉप दिया जा रहा है और कॉलेज में प्रवेश करने पर स्मार्ट फोन प्रदान करने की योजना चलाई जा रही है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि पहले विद्युत वितरण कम्पनी में जले हुए ट्रांसफार्मर बदलने के लिए 50 प्रतिशत राशि जमा करना अनिवार्य होता था। अब केवल 20 प्रतिशत राशि जमा करने पर ही ट्रांसफार्मर को बदल दिया जाएगा। श्री चौहान ने कहा कि किसानों को निःशुल्क खसरे की नकल प्रदान की जा रही है। अविवादित नामांतरण बंटवारे के लिए तीन माह की समय सीमा निर्धारित की गई है। यदि कोई व्यक्ति यह बताएगा कि उसका निर्धारित समय सीमा में अविवादित नामांतरण नहीं हुआ है, तो उसे एक लाख रूपए का ईनाम दिया जाएगा।
श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में अब सबका अपना घर होगा। इसके लिए आवासीय पट्टे और प्रधानमंत्री आवास तथा मुख्यमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास स्वीकृत किये जा रहे हैं। रायसेन जिले में अभी तक 21 हजार आवास स्वीकृत किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री ने महासम्मेलन में विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हितलाभ वितरित किए। मुख्यमंत्री ने    देवरी को नगर पंचायत बनाने, देवरी तहसील टप्पा को पूर्ण तहसील का दर्जा देने और रायसेन जिले के सिलवानी, उदयपुरा तथा बरेली जनपद के 223 गांवों और नरसिंहपुर के 102 गांवों के लिए 1800 करोड़ रूपए की माइक्रो इरीगेशन योजना स्वीकृत करने की घोषणा की। उन्होंने उदयपुरा नगर पंचायत को ओडीएफ होने का प्रमाण पत्र दिया।
मुख्यमंत्री श्री चौहान  ने  इस अवसर पर 4205.35 लाख रूपए लागत के विभिन्न निर्माण एवं विकास कार्यो का शिलान्यास तथा 645.74 लाख रूपये लागत के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण भी किया।
किसान महासम्मेलन में होशंगाबाद सांसद श्री उदयप्रताप सिंह, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, विधायक श्री रामकिशन पटेल, मध्यप्रदेश राज्य खनिज निगम के अध्यक्ष श्री शिव कुमार चौबे, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता किरार, उदयपुरा नगर पंचायत अध्यक्ष श्री केशव पटेल, उदयपुरा जनपद अध्यक्ष श्री वीरेन्द्र सिंह उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.