Sunday, 17 September 2017

10 साल में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है।



आने वाले 10 साल में भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है। इस दौरान भारत, जापान और जर्मनी को पछाड़ देगा।

ब्रिटेन की ब्रोकरेज फर्म एचएसबीसी का कहना है कि इसके लिए भारत को लगातार सुधार पर काम करते रहना होगा और सामाजिक क्षेत्र में ज्यादा ध्यान देना होगा। भारत को ईज ऑफ डूइंग बिजनेस और कॉन्ट्रेक्ट इन्फोर्समेंट पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। इसी के साथ भारत को स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र में भी निवेश बढ़ाना होगा, जो अभी जरूरत के हिसाब से नहीं है। रिपोर्ट के मुताबिक भारत अगले 10 साल में जापान और जर्मनी से नाममात्र अमेरिकी डॉलर के हिसाब से आगे निकल जाएगा। रिपोर्ट में भारत की युवा जनसंख्या ज्यादा होने को महत्वपूर्ण बताया गया है। रिपोर्ट के अनुसार-भारत 2028 तक भारत 7 ट्रिलियन (7 लाख करोड़ डॉलर) की अर्थव्यवस्था होगा, जबकि उस वक्त जर्मनी 6 ट्रिलियन डॉलर और जापान 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी होगा। वर्तमान में भारत 2.3 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था है। इस तरह यह दुनिया की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था है। जीएसटी के चलते भारत की इकोनॉमी इस साल 7.1 फीसदी की दर से बढ़ेगी, जो बाद में भी बढ़ सकती है। इसमें कहा गया है भारत तेजी से सुधार के रास्ते पर है, लेकिन इससे हटना उसके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

नौकरी की कमी के बीच ई- कॉमर्स कंपनियां 1.2 करोड़ जॉब देंगी, जो कुछ मांग 2.4 करोड़ के आधे के बराबर है। इसके अलावा सबसे ज्यादा जॉब हेल्थ और एजूकेशन सेक्टर में आएंगे। भारत सर्विस प्रधान अर्थव्यवस्था बना रहेगा, लेकिन अब भारत को अपना ध्यान निर्माण क्षेत्र पर लगाना होगा। इसके अलावा भारत को कृषि सेक्टर में भी ध्यान देना होगा।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.