Thursday, 31 August 2017

मुख्यमंत्री ने प्रगति ऑन लाईन में की निर्माण कार्यों की समीक्षा

मुख्यमंत्री ने प्रगति ऑन लाईन में की निर्माण कार्यों की समीक्षा 


मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने विकास की विभिन्न परियोजनाओं के निर्माण में समय-सीमा का ध्यान रखने के निर्देश देते हुये कहा है कि किसी भी औपचारिक शासकीय प्रक्रिया के कारण अनावश्यक विलम्ब के लिये संबंधित जबावदेह अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने आज यहाँ मंत्रालय में प्रगति ऑन लाइन में विभिन्न परियोजनाओं की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्माण कार्यों की स्वीकृति से पहले भूमि अधिग्रहण और निर्माण योग्य भूमि का निरीक्षण आवश्यक है। इसके बाद ही तकनीकी स्वीकृति दी जाना चाहिये।  चौहान ने आज यहाँ प्रगति ऑन लाईन के माध्यम से जिला कलेक्टरों से निमार्णाधीन योजनाओं के प्रगति की अद्यतन जानकारी ली। उन्होंने विभिन्न चरणों में चल रही निर्माण परियोजनाओं की विस्तार से समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने समय – सीमा में निर्माण कार्य पूरा करने के लिये काम में और ज्यादा गति लाने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने आज नरेहला ग्रामीण जल प्रदाय योजना मुरैना, भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर में चल रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रमोदय विद्यालय के निर्माण, पवई मध्यम सिंचाई योजना, रूंझ मध्यम सिंचाई परियोजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, विदिशा मेडिकल कॉलेज के निर्माण, सीधी-सिंगरौली सड़क निर्माण, चम्बल एक्सप्रेस - वे, मोहनपुरा मेजर प्रोजेक्ट राजगढ़, मझगवां मध्यम सिंचाई परियोजना, मंत्रालय विस्तार की परियोजना की प्रगति की समीक्षा की। इस अवसर पर संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.